Home Trending टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

122
0
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

अमेरिका में टेक्सस के एक प्राइमरी स्कूल में गोलीबारी से 19 बच्चो और 2 लोगो की मौत हुयी हे.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

यूवाल्डे शहर की रॉब एलिमेंट्री स्कूल में एक 18 वर्षीय लड़का जिसका नाम था सेल्वाडोर रामोस ने पूरी घटना को अंजाम दिया है.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

अपराधी ने सेमि आटोमेटिक राइफल और एक हैंडगन रखी हुयी थी. ये गोलीबारी प्राइमरी स्कूल में की गयी थी जहा 5 से लेकर 11 वर्ष के स्टूडेंट्स थे. 

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

समाचार एजेंसी ने बताया की जब मंगलवार की सुबह ये हादसा हुवा तब पुलिस नजदीकी एरिया में ही थी और वह जल्दी वहा पहोचे और स्कूल के पीछे के दरवाजे से अपराधी को मार गिराया.  

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

Texas Gun violence

सेल्वाडोर ने दो मिलिटरी राइफल खरीदी थी और स्कूल आने से पहले अपनी दादी को गोली मारकर हत्या कर दी थी.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

साल 2012 बाद स्कूल पर किये गए हमले में ऐ सबसे भयानक कहा जा रहा है. साल 2012 में कनेक्टिकट के सैंडी हुक प्राइमरी स्कूल में किये गए हमले में 20 बच्चो और 6 स्टाफ की मोत हुयी थी.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

सीबीएस का कहना है की आरोपी के पास एआर 15-सेमी आटोमेटिक राइफ़ल और बहुत सारी मैगज़ीन्स थी.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

18 साल के इस अपराधी का घर टेक्सस पुलिस ने शील कर दिया है. खबरों के अनुसार गोलीबारी 11:30 के आसपास चालू हुयी थी और यह उस अकेले ने अंजाम दिया है.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

यूवाल्डे कंसोलिडेटेड इंडिपेंडेंट स्कूल डिस्ट्रिक्ट सैन एंटोनियो शहर लगभग 135 किलोमीटर दूर है और वहा 500 बच्चे पढ़ते है.

टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..
टेक्सस शूटिंग, कितना भयानक था अंदर का माहौल..

पीड़ित परिवार इस पूरे मामले में बहुत ही टूट चुके है. एंजेल गार्ज़ा ने कहा की उसकी 10 साल की बेटी अमेरी जो गार्ज़ा भी इस हिंसा में मारी गयी है.

Previous articleयासीन मलिक ने कबूल किये सारे गुनाह, जानिए क्या है पूरी कहानी
Next articleरविंद्र जडेजा हुए CSK से बहार, जानिए 2023 मे कोनसी टीम से खेलेंगे…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here